x
Book Ticket
Fees & Timing

TEAM INDUS ROVER

Description :

Bengaluru-based private aerospace firm Team Indus is part of a consortium that has bagged a contract from US space agency NASA to design and build a lander for its next lunar mission in 2020.


A RAY OF HOPE


The lander was initially code-named HHK1, and their single rover is called ECA, a shortened form for Ek Choti si Asha (A Small Hope). The spacecraft has a liquid rocket engine with a thrust capability of 440 N for deceleration, and sixteen small 22 N thrusters for finer orbital maneuvers and attitude control (orientation). Then the lander would perform a soft landing at a location yet to be determined.


In late 2018, Team Indus (Axiom Research Labs) partnered with OrbitBeyond and won a NASA CLPS award to land several commercial payloads on the Moon. The lander was renamed Z-01 and is planned to be launched in the third-quarter of 2020, possibly on a Falcon 9 rocket and land at Mare Imbrium (29.52º N 25.68º W).


TRIVIA:


Established in 2010 by Rahul Narayana, Team Indus was a finalist for the $30 million Google XPrize Lunar Prize competition.

Group Indus has the support of Infosys, Ratan Tata and Flipkart founders Sachin and Binny Bansal.


TEAM INDUS ROVER

વધુ વિગત :


TEAM INDUS ROVER

अधिक जानकारी :

बेंगलुरु स्थित निजी एयरोस्पेस कंपनी टीम इंडस एक कन्सोर्टियम का हिस्सा है जिसने वर्ष 2020 में अपने आगामी चंद्र मिशन के लिए लैंडर की रचना (डिजाइन) और निर्माण के लिए यु.एस. स्पेस एजेंसी नासा के साथ करार किया है।




उम्मीद की एक किरण


लैंडर को शुरू में HHK1 नाम दिया गया था और उसके सिंगल रोवर को ECA कहा जाता था जो एक छोटी सी आशा (अ स्मोल होप) का छोटा सा रूप है। अंतरिक्ष यान में एक तरल रॉकेट इंजन होता है जिसमें डीसेलिरेशन के लिए 440 एन की क्षमता होती है, और फ़ाइनर ऑरबिटल मनुवर और एट्टीट्यूड कंट्रोल (ओरिएंटेशन) के लिए सोलह छोटे 22 एन थ्रस्टर होते हैं। फिर लैंडर निर्धारित किए गए स्थान पर सॉफ्ट लैंडिंग करता है।


2018 के अंत में, टीम इंडस(Axiom Research Labs) ने ऑर्बिट बियोन्ड के साथ साझेदारी की और चंद्रमा पर कई वाणिज्यिक पेलोड उतारने के लिए नासा सीएलपीएस (NASA CLPS) पुरस्कार जीता। लैंडर का नाम बदलकर Z-01 रखा गया और संभवतः 2020 में फाल्कन 9 रॉकेट पर Q3 लॉन्च कराने की तथा मेर इमब्रियम (29.52º N 25.68º W) पर लैंड कराने की योजना बनाई गई है।


सामान्य ज्ञान:-

राहुल नारायण द्वारा 2010 में स्थापित Team Indus, $ 30 मिलियन Google XPrize Lunar Prize प्रतियोगिता के में फाइनलिस्ट थी।

ग्रुप इंडस को इंफोसिस, रतन टाटा और फ्लिपकार्ट के संस्थापकों सचिन और बिन्नी बंसल का समर्थन प्राप्त है।