x
Book Ticket
Fees & Timing

WALL CLIMBING-GECKO ROBOT

Description :

WALL CLIMBING-GECKO ROBOT



GECKO ROBOT - FABRICATING THE NATURE




The Gecko robot uses an adhesive material that mimicks the lizard's ability to stick to the wall and move up. This adhesion is possible due to the Van der Walls forces created by the tiny fibers on the lizard's feet and the wall surface. The revolutionary synthetic material mimicking a gecko foot was discovered by Andre Geim and fellow researchers at the University of Manchester in 2003. Since the robot is capable of moving up the wall without any external power, it is cost-effective and is often used for pick and place applications. Gecko robot sets an example of how our understanding about the fundamental forces of nature can help us in looking at an unsolved problem from a different direction altogether.

WALL CLIMBING-GECKO ROBOT

વધુ વિગત :


WALL CLIMBING-GECKO ROBOT

अधिक जानकारी :




गेको रोबोट – प्रकृति के अनुकरणकर्ता





गेको रोबोट में एक तरह के चिपचिपे पदार्थ का प्रयोग किया जाता है जिसके कारण ये छिपकली तरह दीवार पर चिपक सकता है और ऊपर चढ़ सकता है| इसकी चिपकने की क्षमता छिपकली के पैरों और



दीवार की सतह के बीच मौजूद वैन डर वाल्स फोर्स के कारण संभव को पाती है| गेको के पैरों की तरह चिपकने वाली इस परिवर्तनकारी सामग्री की खोज आंद्रे गेम और उनके साथी शोधकर्ताओं ने



मैनचेस्टर विश्वविद्यालय में वर्ष 2003 की थी| चूंकि यह रोबोट बिना किसी बाहरी सहायता के दीवार पर चढ़ने की क्षमता रखता है, इससे लागत कम हो जाती है और अक्सर इस रोबोट का प्रयोग



सामान उठाकर रखने जैसे कामों के लिए होता है| गेको रोबोट इस बात का एक उदाहरण है कि किस तरह प्रकृति की बुनियादी ताकतें किसी अनसुलझी समस्या को एक अलग दृष्टिकोण से देखने में हमारी



मदद करती हैं|